agriculture

किसानों को मिलेगा एक लाख तक का प्रोत्साहन

किसानों को मिलेगा एक लाख रूपये तक का प्रोत्साहन
Written by Vijay dhangar

मिलेगा रुपए एक लाख तक का प्रोत्साहन, 31 तक आवेदन

खेती में नवाचार और नई तकनीकों के समावेश को बढ़ावा देने के लिए #भारतीय_कृषि_अनुसंधान_परिषद (आईसीएआर) की ओर से वैज्ञानिकों और किसानों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाते हैं। वर्ष 2018 के पुरस्कारों के आवेदन की अंतिम तिथि 31 दिसंबर है। किसान वर्ग के राष्ट्रीय व क्षेत्रीय आधार पर जैविक खेती विधिकृत कृषि आदि से जुड़े पुरस्कार दिए जाएंगे। राष्ट्रीय स्तर के लिए एक लाख जबकि क्षेत्रीय स्तर पर प्रोत्साहन पुरस्कार राशि ₹50000 तक तय की गई है। जो अगले वर्ष किसान साथियों को प्रदान की जाएगी।

निम्न प्रोत्साहन पुरस्कार किसानों को दिए जाएंगे

जगजीवनराम अभिनव किसान प्रोत्साहन पुरस्कार

उन्नत कृषि तकनीक व प्रणाली का इस्तेमाल कर नवाचार करने वाले किसानों को यह पुरस्कार दिया जाएगा। खेती में 10 वर्ष का अनुभव होना चाहिए। राष्ट्रीय स्तर का एक व क्षेत्रीय स्तर के 11 प्रोत्साहन पुरस्कार। नवाचार का प्रसार करने के लिए पुरस्कार के सम्मान राशि का यात्रा अनुदान भी।

विविधीकरण कृषि के लिए एनजी रंगा प्रोत्साहन पुरस्कार

पशुपालन, उद्यानिकी, मत्स्य पालन, मिश्रित खेती आदि के समावेश से खेती में विविधता लाने वाले किसानों को यह पुरस्कार दिया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर का एक पुरस्कार। खेती में 10 वर्ष का अनुभव होना चाहिए।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय कृषि पुरस्कार

खेती के सतत कृषि मॉडल से काश्त करने वाले सीमांत, लघु व भूमिहीन किसानों के लिए। एक राष्ट्रीय पुरस्कार।

Read also:- गाजर की फसल में कीट एवं रोग प्रबंधन

कृषि यंत्रों पर मिल रहा 50% तक अनुदान यह है योजना

हलधर जैविक कृषि पुरस्कार

जैविक कृषि में योगदान देने वाले किसान या किसान समूह के लिए, 5 वर्ष का अनुभव होना जरुरी हैं।

आवेदन के साथ यह भी जरूरी

किसानों को आवेदन में मोबाइल नंबर, ई-मेल, बैंक अकाउंट नंबर, बैंक का पता, आईएफएससी कोड, पैन नंबर का उल्लेख करना होगा और कैंसिल चेक सलग्न करना होगा। पुरुष्कार से जुड़े दिशा-निर्देश और आवेदन पत्र निचे दी गई वेबसाइट पर देखे जा सकते हैं।

वेबसाइट:- https://icar.org.in/content/icar-awards-2018-0

Facebook Comments

About the author

Vijay dhangar