Employment

कार्डियक केयर टेक्नीशियन बनकर सवारे करियर

कार्डियक केयर टेक्नीशियन
Written by bheru lal gaderi

मेडिकल फील्ड में करियर बनाने के इच्छुक युवा कार्डियक केयर टेक्नीशियन बनकर एक अच्छे कैरियर का निर्माण कर सकते हैं।

कार्डियक केयर टेक्नीशियन को कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजिस्ट भी कर सकते हैं। इसे वे युवा अपना सकते हैं जो मेडिकल फील्ड में करियर तलाश रहे हैं पर वह नर्स या पूर्ण रूप से डॉक्टर नहीं बनना चाहते। कार्डियक केयर टेक्नीशियन मेडिकल प्रोफेशनल की तरह काम करते हैं जो मरीजों के विभिन्न तरह के टेस्ट करते हैं और जो मरीजों की डाइग्नोसिस में डॉक्टर की मदद करते हैं। यह विशेषज्ञों आँख और हाथ की तरह होते हैं। ये मरीजों की रिपोर्ट के विश्लेषण से लेकर उनके दिल की देखभाल का ख्याल रखते हैं।

कार्डियक केयर टेक्नीशियन

योग्यता

इस फिल्ड में कोर्स करने के लिए कैंडिडेट का मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास होना आवश्यक है। कई कॉलेज इस फील्ड में सर्टिफिकेट कोर्स भी उपलब्ध करते हैं। इस तरह 10वी पास कैंडिडेट भी करके करियर बना सकता है। अगर कैंडिडेट इस फील्ड में निपुणता हासिल करना चाहता है तो वह 12वीं के बाद बीएससी इन कार्डियक केयर टेक्नोलॉजी की पढ़ाई कर सकता है और अपने कैरियर को एक बेहतर रूप दे सकता है।

Read also:- Nursing Assistant A Complete Career Guidance

जॉब प्रोफाइल

इस फील्ड में करियर बनाने के कई सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और डिग्री प्रोग्राम उपलब्ध है। कार्डियक केयर टेक्नीशियन अस्पताल में रहकर मरीजों के दिल और रक्त वाहिकाओं के रोगों के निदान और उपचार के द्वारा सर्जन की सहायता करता है। दिल और वाहिकाओं के उपचार उपायों के विस्थापन में सहायता इनवेसिव और गैर इनवेसिव नैदानिक परीक्षाओं के निष्पादन में सहायता भी टेक्नीशियन का काम होता है।

Read also:- Firefighters Career, Salary and Education Information

जरूरी स्किल्स

कार्डियक केयर टेक्निशन मॉनिटर और रिपोर्टर में तार जोड़ने, बेहतर कनेक्शन सुनिश्चित करने के लिए रीदम स्ट्रिप या लीड रिकॉर्ड करने, ईसीजी वेब फार्म की पहचान करने, आर्टफेक्ट फ्री ट्रेसिंग व सही लिड स्थापन सुनिश्चित करने, लीड हटाने और सेंसर साइट्स को को साफ करने, ड्रेसिंग साधनों में सहायता करने में निपुण होना चाहिए। लगातार अभ्यास करके आप इन सब कामों में एक्सपर्ट बन सकते हैं।

कार्डियक केयर टेक्नीशियन की आय

देश में ही नहीं, बल्कि विदेशों में भी पैरामेडिक्स की डिमांड आ रही है। देशभर में सरकारी के अलावा प्राइवेट अस्पतालों में कतारों को देखते हुए यह आसानी से अनुमान लगाया जा सकता है कि इस फील्ड में नौकरियों की भरमार सी आ गई है। वेतन की बात करें तो शुरुआती तौर पर एक कार्डियक केयर टेक्नीशियन मासिक 20 से 30 हजार रूपये तक कमा सकता है और अनुभव के आधार पर इस में बढ़ोतरी होती जाती है। इसके अलावा कैंडिडेट चाहे तो सरकारी अस्पतालों में परीक्षा देकर भी आसानी से नौकरी पा सकता है।

Read also:- App Developers A Complete Career Guidance

प्रमुख संस्थान

महर्षि मार्कंडेश्वर यूनिवर्सिटी, अम्बाला

www.mmumullana.org

शिवालिक इंस्टिट्यूट ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी, चंडीगढ़

www.shivalikinstitute.org

इंडियन मेडिकल इंस्टिट्यूट ऑफ़ नर्सिंग, जालंधर, पंजाब

www.iminursing.com

दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट, नई दिल्ली

www.dpmiindia.com

Read also:- ऑनलाइन जॉब्स करके घर बैठे पैसे कमाए

Facebook Comments

About the author

bheru lal gaderi

Hello! My name is Bheru Lal Gaderi, a full time internet marketer and blogger from Chittorgarh, Rajasthan, India. Shouttermouth is my Blog here I write about Tips and Tricks,Making Money Online – SEO – Blogging and much more. Do check it out! Thanks.